परिचय

विभागीय संगठन

परिवहन विभाग के वि‍भागाध्यक्ष परिवहन आयुक्त हैं । जो प्रमुख शासन सचि‍व भी है। वर्तमान में विभाग में 6 पद क्रमश: अपर परिवहन आयुक्त (प्रशासन) जो संयुक्‍त शासन सचि‍व (मुख्‍यालय) भी है, अपर परिवहन आयुक्त (सदस्य, प्रादेशिक परिवहन प्रा‍धिकार) जो संयुक्‍त शासन सचि‍व (परि‍वहन) भी है, अपर परिवहन आयुक्त (प्रवर्तन), अपर परि‍वहन आयुक्‍त (नि‍यम/प्रशि‍क्षण), अपर परि‍वहन आयुक्‍त (रेल्‍वे प्रकोष्‍ठ, कर एवं प्रदूषण नि‍यंत्रण) एवं अपर परि‍वहन आयुक्‍त (सडक सुरक्षा, एस.टी.ए. एवं आर.टी.ए.) मुख्‍यालय पर सृजित है ।  मुख्यालय में संयुक्‍त परिवहन आयुक्त के 3 पद यथा नि‍यम, कर/प्रदूषण नि‍यंत्रण/रेल्‍वे समन्‍वय एवं याचि‍का के सृजित हैं। मुख्‍यालय पर ही उप परि‍वहन आयुक्‍त के 5 पद यथा प्रशासन, यो.वि‍., प्रर्वतन, सडक सुरक्षा/एस.टी.ए./आर.टी.ए. एवं आधुनि‍कीकरण/टी.ए. के सृजित हैं । इसके अतिरिक्त मुख्यालय पर सिस्टम एनालिस्ट, सहायक परिवहन आयुक्त, सहायक निदेशक (सांख्यिकी), मुख्य विधि परामर्शी, एनालिस्ट कम प्रोग्रामर का एक -एक तथा जिला परिवहन अधिकारी के दो पद सृजित हैं। जोधपुर में उपायुक्‍त याचि‍का का एक पद सृजित है। इसके अति‍रि‍क्‍त राज्‍य राजस्‍व आसूचना नि‍देशालय के लि‍ए एक पद अपर परि‍वहन आयुक्‍त एवं एक पद संयुक्‍त परि‍वहन आयुक्‍त के सृजित हैं।

लेखा सेवा के अन्तर्गत मुख्यालय पर वित्तीय सलाहकार तथा उप वि‍त्‍तीय सलाहकार का एक-एक पद सृजित है। उनके सहयोग के लिए एक वरि‍ष्‍ठ लेखाधि‍कारी एवं तीन लेखाधिकारी के पद सृजित हैं। मुख्यालय पर सहायक लेखाधिकारी के 7 पद सृजित हैं, जिनमें एक ड्राफट शाखा तथा 6 आंतरि‍क जांच का कार्य करते है।  

परिवहन सेवाओं को सुचारू रूप से संचालन एवं परिवीक्षण हेतु राज्य को परिवहन की दृष्टि से 12 संभागों एवं 53 जिलों में विभाजित किया गया है। दो प्रमुख कर संग्रह केन्द्रों शाहजहॉंपुर एवं रतनपुर में भी जिला परिवहन अधिकारी के पद सृजित है। इसके अति‍रि‍क्‍त 5 रीजन में संयुक्‍त परि‍वहन आयुक्‍त के पद सृजित हैा इसके अति‍रि‍क्‍त 5 रीजन में संयुक्‍त परि‍वहन आयुक्‍त के पद सृजित है तथा शेष 7 रीजन में एक-एक प्रादेशि‍क परिवहन अधिकारी के पद सृजित हैं, ये प्रादेशिक परिवहन प्राधिकार के पदेन सचिव के रूप में भी कार्य करते है। इनकी सहायता हेतु जयपुर एवं जोधपुर में दो-दो, तथा शेष संभागों यथा अलवर, अजमेर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, सीकर, दौसा, पाली, भरतपुर एवं चित्तौडगढ में एक एक अतिरिक्त प्रादेशिक परिवहन अधिकारी के पद सृजित है । प्रादेशिक परिवहन अधिका‍रियों के मुख्यालय एवं उनके अन्तर्गत आने वाले परिवहन जिले निम्नानुसार हैं -

क्र.सं.

क्षेत्र जिलों की संख्‍या परिवहन जिला

1

जयपुर

5

जयपुर, दूदू, कोटपुतली, चौमू, शाहपुरा

2

दौसा

3

दौसा, सवाईमाधोपुर, करौली

3

सीकर

4

सीकर, झुंझुनू, चूरू, सुजानगढ

4

अजमेर

7

अजमेर, टोंक, नागौर, ब्यावर, डीडवाना, किशनगढ, केकडी

5

अलवर

3

अलवर, भिवाडी, शाहजंहापुर (कर संग्रह केन्द्र)

6

जोधपुर

5

जोधपुर, बाडमेर, जैसलमेर, बालोतरा, फलौदी

7

पाली

5

पाली, सिरोही, जालौर, आबूरोड, भीनमाल

8

उदयपुर

5

उदयपुर, बांसवाडा, डूंगरपुर,राजसमंद, रतनपुर (कर संग्रह केन्द्र)

9

चित्तौडगढ

4

चित्तौडगढ, प्रतापगढ, भीलवाडा, शाहपुरा

10

कोटा

5

कोटा, बूंदी, झालावाड, बारां, रामगंज मण्डी

11

बीकानेर

5

बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ, नोहर, नोखा

12

भरतपुर

2

भरतपुर, धौलपुर

इसके अति‍रिक्त अन्‍तर्राज्यीय सीमाओं पर 37 कर संग्रह केन्द् स्वीकृत है। आमजन की सुविधा के लिए बडे़ कस्बों में 26 उप परिवहन कार्यालय स्वीकृत है। प्रादेशिक परिवहन अधिकारी, जयपुर  एवं जोधपुर के पदों पर राज्य प्रशासनिक सेवा वर्ग के अधि‍कारी पदस्‍थापि‍त है तथा शेष पर परिवहन सेवा के अधि‍कारी कार्यरत है। जि‍लों में परि‍वहन सम्‍बंधी कार्यो के सुचारू रूप से सम्‍पादन के लिए वि‍भाग में कुल 77 जि‍ला परि‍वहन अधि‍कारी, 290 परिवहन निरीक्षक एवं 371 परिवहन उप निरीक्षक के पद सृजित है ।